समयपूर्व जन्म के लिए गर्भनाल के जीवाणु जिम्मेदार

समयपूर्व जन्म के लिए गर्भनाल के जीवाणु जिम्मेदार

लंदन, 20 मई (आईएएनएस)| समय पूर्व प्रसव वाली महिलाओं के गर्भनाल में वैज्ञानिकों ने अत्यधिक संख्या में रोगजनक जीवाणु पाए हैं। इससे माता में होने वाले संक्रमण के कारण समयपूर्व प्रसव --37 सप्ताह से कम गर्भावधि-- की परिकल्पना को बल मिलता है। सामान्य धारणा के विपरीत स्वस्थ गर्भनाल में भी जीवाणु के चिन्ह पाए गए हैं।



स्वास्थ्य के क्षेत्र में नैटहेल्थ कई नालेज पेपर लेकर आया

स्वास्थ्य के क्षेत्र में नैटहेल्थ कई नालेज पेपर लेकर आया

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)| नैटहेल्थ ने पिछले छह साल में स्वास्थ्य क्षेत्र में प्रमुख भूमिका निभाते हुए सभी हितधारकों को एक मंच पर लाने की कोशिश की है और स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़ी समस्याओं और चुनौतियों पर व्यापक चर्चा की है। इसके साथ 'स्वस्थ भारत' का रोडमैप तैयार करने के लिए कई नॉलेज पेपर्स पेश किया गया।

विटामिन बी12 देने वाला पौधा खोजा गया

विटामिन बी12 देने वाला पौधा खोजा गया

लंदन, 20 मई (आईएएनएस)| अगर आप शुद्ध शाकाहारी हैं और आप में विटामिन बी12 की कमी है तो आप के लिए अच्छी खबर है। वैज्ञानिकों ने सूप व सैंडविच बनाने में इस्तेमाल होने वाली एक आयुर्वेदिक वनस्पति से विटामिन बी12 का स्तर बढ़ाने के तरीके खोज निकाले हैं। विटामिन बी12 को कोबलामिन के नाम से भी जानते हैं। यह मांस, मछली व दुग्ध उत्पादों में खासतौर से पाया जाने वाला आवश्यक आहार घटक है।

स्तन कैंसर जागरूकता अभियान शुरू

स्तन कैंसर जागरूकता अभियान शुरू

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)| महिलाओं के ब्यूटी ब्रांड एवॉन इंडिया ने स्तन कैंसर के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए अपने 'पेअटेंशन' अभियान का दूसरा चरण शुरू किया है। यह अभियान दुनियाभर में 60 लाख स्वतंत्र एवॉन प्रतिनिधियों की मदद से शुरू किया गया है।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर बढ़ रही हैं दुर्घटनाएं

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर बढ़ रही हैं दुर्घटनाएं

आगरा, 20 मई (आईएएनएस)| यातायात के नियमों का पालन किए बिना रफ्तार से गाड़ियां चलाने के कारण उत्तर प्रदेश के दोनों एक्सप्रेसवे पर जानलेवा दुर्घटनाओं की संख्या बढ़ रही है। साल 2012 में शुरू हुए यमुना एक्सप्रेसवे पर लगभग एक हजार लोगों की जान जा चुकी है, तो नवनिर्मित आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर भी 100 से ज्यादा लोग मर चुके हैं। नवनिर्मित एक्सप्रेसवे से आगरा से लखनऊ सिर्फ पांच घंटे में पहुंचा जा सकता है। प्रशासन रफ्तार पर काबू पाने के लिए कोई प्रभावी तंत्र स्थापित करने में विफल रहा है।

गर्भधारण में समस्या? दंपतियों के लिए 6 कारगर सलाह

गर्भधारण में समस्या? दंपतियों के लिए 6 कारगर सलाह

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)| किसी भी दंपति के लिए बच्चे के आगमन की योजना बनाना महत्वपूर्ण कदम है। चूंकि भारत में आज हर छह में से एक दंपति प्रजनन संबंधी समस्या का सामना कर रहा है, ऐसे में कई दंपतियों के लिए बच्चे को दुनिया में लाने की यह प्रक्रिया कठिनाई भरी और तनावपूर्ण हो जाती है। हालांकि प्रजनन क्षमता से जुड़ी कुछ समस्याओं के मामले में निवारण संभव नहीं है, लेकिन कुछ महत्वपूर्ण कदम ऐसे हैं, जिन्हें उठाकर नई जिंदगी की शुरुआत की जा सकती है। अगर आपके करीबी लोगों में से कोई गर्भधारण के लिए लंबे समय से प्रयासरत हैं, लेकिन सफलता नहीं मिल रही तो नारायणा हेल्थकेयर्स वीमंस एंड चाइल्ड इंस्टीट्यूट की स्त्रीरोग विशेषज्ञ डॉ. लावण्या किरण तथा एमएमजी जिला अस्पताल, गाजियाबाद के डॉ. अनिल प्रकाश ने छह महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं जो गर्भधारण को आसान बनाएंगे।

बालों की सुरक्षा के लिए अपनाएं प्राकृतिक हेयर कलर

बालों की सुरक्षा के लिए अपनाएं प्राकृतिक हेयर कलर

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)| आज लोगों में बाल झड़ने की समस्या तेजी से बढ़ रही है और इस समस्या के भी विभिन्न कारण हैं जिनमें प्रमुख है बालों की सही देखभाल न करना और आकर्षक दिखने के लिए तरह-तरह के हेयर कलर, तेल, क्रीम का इस्तेमाल। लेकिन इनसे होने वाले नुकसान पर हमारा ध्यान नहीं जाता। विशेषज्ञों का कहना है कि हेयर केयर आवश्यक तो है लेकिन जरूरी नहीं कि केमिकल तत्वों वाली क्रीम या उत्पाद इस्तेमाल किए जाएं, बाजार में नो अमोनिया या प्राकृतिक हेयर कलर भी मौजूद हैं जो बालों को नुकसान नहीं पहुंचाते।

मधुमेह रोगियों में हार्ट अटैक का खतरा कम करता है आयुर्वेद

मधुमेह रोगियों में हार्ट अटैक का खतरा कम करता है आयुर्वेद

नई दिल्ली, 19 मई (आईएएनएस)| वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) द्वारा विकसित आयुर्वेदिक दवा बीजीआर-34 मधुमेह रोगियों में हार्ट अटैक के खतरे को पचास फीसदी तक कम कर देती है। इस दवा के करीब 50 फीसदी सेवनकर्ताओं में ग्लाइकोसिलेटेड हीमोग्लोबिन का स्तर नियंत्रित पाया गया। शोध में यह बात सामने आई है।

9 फीसदी महिलाएं, 14 फीसदी पुरुष उच्च रक्तचाप की जद में

9 फीसदी महिलाएं, 14 फीसदी पुरुष उच्च रक्तचाप की जद में

जयपुर, 18 मई (आईएएनएस)| नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे (एनएफएचएस) के आंकड़ों के मुताबिक नौ फीसदी महिलाएं और 14 फीसदी पुरुष उच्च रक्तचाप की जद में हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि उच्च रक्तचाप हृदय की बीमारियों के लिए सबसे बड़ा खतरा बनकर उभर रहा है।

सिजोफ्रेनिया के शीघ्र उपचार से आत्महत्या की दर में गिरावट संभव

सिजोफ्रेनिया के शीघ्र उपचार से आत्महत्या की दर में गिरावट संभव

नई दिल्ली/नोएडा, 18 मई (आईएएनएस)| सिजोफ्रेनिया ऐसी मानसिक समस्या है, जो आत्महत्या का कारण बनती है। एक अध्ययन के मुताबिक सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त लोगों में मौत का जोखिम तीन गुना बढ़ जाता है और कम उम्र में ही उनकी जान जाने की संभावना बढ़ जाती है। सिजोफ्रेनिया मानसिक बीमारी का गंभीर रूप है, जिससे देश के शहरी क्षेत्रों में प्रति हजार लोगों में लगभग 10 लोग ग्रस्त होते हैं और इसके मरीजों में ज्यादातर 16 से 45 वर्ष उम्र के लोग होते हैं। भारत में सिजोफ्रेनिया के करीब 90 प्रतिशत लोगों का इलाज नहीं हो पाता है।

वीडियो गैलरी

© 2018 आईएएनएस इंडिया प्राईवेट लिमिटेड.
हमें बुकमार्क करना ना भूलें! (CTRL-D)
साइट द्वारा डिज़ाइन किया गया: आईएएनएस