कश्मीर के सेब उत्पादकों के लिए केंद्र की योजना होगी कामयाब? (विशेष)

कश्मीर के सेब उत्पादकों के लिए केंद्र की योजना होगी कामयाब? (विशेष)

सोपोर (जम्मू-कश्मीर), 16 सितम्बर (आईएएनएस)| अनुच्छेद 370 निरस्त किए जाने के बाद कश्मीर के सेब उत्पादकों को संचार सेवा बाधित होने से कठिनाइयों को सामना करना पड़ रहा था, जिसे देखते हुए सरकार ने नोडल खरीद एजेंसी के माध्यम से उनसे सीधे सेब खरीदने की योजना की घोषणा की।



प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन के ऊपर ड्रोन उड़ाते हिरासत में लिए गए 2 अमेरिकी रिहा (आईएएनएस

प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन के ऊपर ड्रोन उड़ाते हिरासत में लिए गए 2 अमेरिकी रिहा (आईएएनएस

नई दिल्ली, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| राष्ट्रपति भवन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय के ऊपर 'नो फ्लाइंग जोन' में 'ड्रोन' उड़ता देखकर देश की खुफिया एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के हाथ-पांव फूल गए। घटना शनिवार शाम 5 से 6 बजे के बीच की है। इस सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने दो अमेरिकी नागरिकों को हिरासत में लिए जाने की पुष्टि की है।

छत्तीसगढ़ : 1 किलोग्राम प्लास्टिक लाइए, मुफ्त भोजन पाइए

छत्तीसगढ़ : 1 किलोग्राम प्लास्टिक लाइए, मुफ्त भोजन पाइए

सरगुजा, 16 सितंबर (आईएएनएस)| देश में पर्यावरण के लिए प्लास्टिक एक बड़ी समस्या व चुनौती बनती जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्लास्टिक मुक्ति का आह्वान किया है। छत्तीसगढ़ के सरगुजा (अम्बिकापुर) में प्लास्टिक कचरे से मुक्ति के लिए एक अनोखी योजना गांधी जयंती दो अक्टूबर से शुरू होने जा रही है। इसके तहत प्लास्टिक कचरा बीनने वालों को भोजन-नाश्ते की व्यवस्था की गई है। इसके लिए गार्बेज कैफे भी बनाया जा रहा है।

चिन्मयानंद और आसाराम के कृत्य धर्म पर आघात : स्वामी आनंद स्वरूप (साक्षात्कार)

चिन्मयानंद और आसाराम के कृत्य धर्म पर आघात : स्वामी आनंद स्वरूप (साक्षात्कार)

भोपाल, 16 सितंबर (आईएएनएस)| भगवा वस्त्र पहनने वालों के अनैतिक कार्यो में लिप्त पाए जाने के मामलों से साधु-संत समाज व्यथित है। शंकराचार्य ट्रस्ट के स्वामी आनंद स्वरूप का कहना है कि चिन्मयानंद, आसाराम बापू जैसे स्वयंभू संतों पर अनैतिक कार्यो में शामिल होने के आरोप लगने से धर्म को आघात लगा है।

देहरादून : देश के इकलौते दृष्टिबाधितार्थ संस्थान में 'कुकर्म' की घटना से हड़कंप

देहरादून : देश के इकलौते दृष्टिबाधितार्थ संस्थान में 'कुकर्म' की घटना से हड़कंप

देहरादून, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| देहरादून में राजपुर रोड स्थित देश के पहले और इकलौते दृष्टिबाधितार्थ संस्थान में 11 साल के छात्र के साथ कुकर्म किये जाने की घटना सामने आई है। घटना को अंजाम देने वाला 16 वर्षीय आरोपी छात्र भी इसी संस्थान का विद्यार्थी है। पीड़ित कक्षा छह में पढ़ता है। फिलहाल पीड़ित छात्र की शिकायत के आधार पर संस्थान की प्रिंसिपल ने आरोपी छात्र को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है। नाबालिग होने के कारण उसे संस्थान में ही एक अलग कमरे में 'नजरबंद' करके रखा गया है। इस सिलसिले में देहरादून पुलिस ने रविवार और सोमवार को भी कई स्थानों पर छापेमारी की है।

गांधी के नाम पर ढकोसला कर रहीं पार्टियां : वयोवृद्ध गांधीवादी (संशोधित)

गांधी के नाम पर ढकोसला कर रहीं पार्टियां : वयोवृद्ध गांधीवादी (संशोधित)

नई दिल्ली, 16 सितंबर (आईएएनएस)| तीस जनवरी 1948 को गांधी (मोहन दास करमचंद गांधी) की हत्या की गई थी, और उसके बाद से लगातार उनके विचारों की अवहेलना करने की कोशिशें हो रही हैं, लेकिन गांधी और व्यापक, विश्वव्यापी होते गए हैं। आज गांधी की विरासत पर कब्जा करने की जैसे होड़-सी मची हुई है। गांधी को वे लोग भी अपना बता रहे हैं, जिन्होंने कभी गांधी को अपना नहीं माना, और वे लोग भी जो गांधी की विरासत से निकले थे, लेकिन उस विरासत को ही भूल गए, रास्ते से भटक गए थे। आखिर ऐसी क्या मजबूरी है कि खुद को दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी कहने वाली भाजपा और देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को आज गांधी-गांधी रटने की जरूरत पड़ गई है?

गांधी के नाम पर ढकोसला कर रहीं पार्टियां : वयोवृद्ध गांधीवादी

गांधी के नाम पर ढकोसला कर रहीं पार्टियां : वयोवृद्ध गांधीवादी

नई दिल्ली, 16 सितंबर (आईएएनएस)| तीस अक्टूबर 1948 को गांधी (मोहन दास करमचंद गांधी) की हत्या की गई थी, और उसके बाद से लगातार उनके विचारों की अवहेलना करने की कोशिशें हो रही हैं, लेकिन गांधी और व्यापक, विश्वव्यापी होते गए हैं। आज गांधी की विरासत पर कब्जा करने की जैसे होड़-सी मची हुई है। गांधी को वे लोग भी अपना बता रहे हैं, जिन्होंने कभी गांधी को अपना नहीं माना, और वे लोग भी जो गांधी की विरासत से निकले थे, लेकिन उस विरासत को ही भूल गए, रास्ते से भटक गए थे। आखिर ऐसी क्या मजबूरी है कि खुद को दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी कहने वाली भाजपा और देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को आज गांधी-गांधी रटने की जरूरत पड़ गई है?

अमेरिकी नीतियां समस्याओं का कारण : हसन

अमेरिकी नीतियां समस्याओं का कारण : हसन

तेहरान, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि अमेरिकी नीतियां मध्य पूर्व क्षेत्र में समस्याओं का मूल कारण हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, तुर्की के अंकारा के लिए तेहरान से रवाना होने से पहले रविवार को रूहानी ने कहा, "इस क्षेत्र में जो कुछ हो रहा है ..अमेरिका की गलत योजनाओं और साजिशों का परिणाम है।"

एसआईटी को 1984 के सिख-विरोधी दंगों की फाइलें कानपुर से गायब मिलीं (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

एसआईटी को 1984 के सिख-विरोधी दंगों की फाइलें कानपुर से गायब मिलीं (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

कानपुर, 15 सितंबर (आईएएनएस)| साल 1984 में सिख-विरोधी दंगों के दौरान हुईं हत्याओं से संबंधित महत्वपूर्ण फाइलें कानपुर में सरकारी रिकॉर्ड से गायब हैं। उत्तर प्रदेश के इस औद्योगिक नगर में 125 से ज्यादा सिखों की हत्या हुई थी। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 31 अक्टूबर, 1984 को हत्या होने के बाद अल्पसंख्यकों की हत्या दिल्ली के बाद सबसे ज्यादा कानपुर में ही हुई थी।

बिहार : गया में 250 वर्ष पुराने बही-खातों में दर्ज हैं पुरखों के हस्ताक्षर

बिहार : गया में 250 वर्ष पुराने बही-खातों में दर्ज हैं पुरखों के हस्ताक्षर

गया, 15 सितंबर (आईएएनएस)| आज इंटरनेट के इस युग में आप अपने दस्तावेज सुरक्षित रखने के लिए भले ही डिजिटल एप का सहार लेते हों, मगर गया में पितरों की आत्मा की मुक्ति के लिए पिंडदान कर्मकांड कराने में निपुण पंडे आज भी अपने 250 से 300 साल पुराने बही-खाते से ही पिंडदान करने वाले पूर्वजों के नाम खोजते हैं।

वीडियो गैलरी

© 2019 आईएएनएस इंडिया प्राईवेट लिमिटेड.
हमें बुकमार्क करना ना भूलें! (CTRL-D)
साइट द्वारा डिज़ाइन किया गया: आईएएनएस