ओडिशा जल संसाधनों को विकसित करने में 75,000 करोड़ खर्च करेगा
ओडिशा जल संसाधनों को विकसित करने में 75,000 करोड़ खर्च करेगा

--आईएएनएस

भुवनेश्वर, 17 मई (आईएएनएस)| ओडिशा सरकार ने गुरुवार को कहा कि राज्य के जल संसाधनों को विकसित करने के लिए अगले पांच सालों में 75 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने जल संसाधन विभाग को अगले तीन महीने में विस्तृत नदी नीति बनाने का निर्देश दिया है।

पटनायक ने कहा कि पानी को इकठ्ठा करने के लिए महानदी पर कई बांधों का निर्माण किया जाएगा। इकट्ठा हुए पानी को कृषि प्रयोजनों के साथ पीने का पानी मुहैया कराने के प्रयोग में लाया जाएगा।

बांधों का निर्माण वहां किया जाएगा, जहां विस्थापन की संभावना कम है।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि ओडिशा सरकार महानदी के पानी का उपयोग करने के लिए मास्टर प्लान तैयार कर रही है। इस मास्टर प्लान में नदी के प्रवाह की ओर सात बांध और नदी की सहायक नदियों व वितरिकाओं पर 22 बांधों का निर्माण शामिल है।

बयान में कहा गया कि सरकार अगले तीन साल में बारगढ़ की मुख्य नहर के ठोस किनारे बनाने के लिए 400 करोड़ रुपये खर्च करेगी। मुख्यमंत्री ने तीन महीने में गंगाधर मेहर मेगालिफ्ट नहर प्रणाली की निविदा प्रक्रिया शुरू करने की भी सलाह दी है।

 

© 2018 आईएएनएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड। सर्वाधिकार सुरक्षित।
किसी भी रूप में कहानी / फोटोग्राफ के प्रजनन कानूनी कार्रवाई के लिए उत्तरदायी होगा।

समाचार, विचार और गपशप के लिए, अनुगमन करें @IANSLIVE at ट्विटर हमें यहाँ तलाशें फेसबुक पर भी!

अंतिम नवीनीकृत: 17 मई, 2018

संबंधित समाचार

वीडियो गैलरी

© 2018 आईएएनएस इंडिया प्राईवेट लिमिटेड.
हमें बुकमार्क करना ना भूलें! (CTRL-D)
साइट द्वारा डिज़ाइन किया गया: आईएएनएस