ताज़ा खबर
राफेल सौदे से एचएएल को बाहर करने के लिए संप्रग जिम्मेदार : सीतारमण

राफेल सौदे से एचएएल को बाहर करने के लिए संप्रग जिम्मेदार : सीतारमण  

18 सितंबर, 2018  

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)| राफेल सौदे पर नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस के आरोपों का खंडन करते हुए रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को यहां कहा कि पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) सरकार जेट सौदे में हिंदुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड(एचएएल) की उपेक्षा किए जाने के लिए जिम्मेदार है। सीतारमण ने यहां मीडिया से बातचीत में कहा, "एचएएल के बारे में सारे आरोप जो हमपर मढ़े जा रहे हैं..इसके बारे में हमें नहीं, संप्रग को जवाब देना है कि क्यों डसॉल्ट और एचएएल के बीच समझौता नहीं हुआ।"  



मोदी ने राफेल सौदे में राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया : एंटनी

मोदी ने राफेल सौदे में राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया : एंटनी  (18 सितंबर, 2018)

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)| कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ए.के. एंटनी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फ्रांस से खरीदे जाने वाले राफेल लड़ाकू विमानों की संख्या घटाकर 36 करने पर 'राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा तैयारियों के साथ गंभीर समझौता' करने का आरोप लगाया है। पूर्व रक्षामंत्री ने यहां मीडिया से कहा, "2000 में, भारतीय वायुसेना(आईएएफ) ने तत्कालीन राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) सरकार को कहा था कि उन्हें कम से कम 126 लड़ाकू विमानों की जरूरत है। पूर्वी और पश्चिमी सीमाओं पर खतरे के मद्देनजर, आधुनिक हवाई शक्ति बेहद महत्वपूर्ण है।"

भाजपा के चेहरे पर राफेल दलाली की लाली : संजय सिंह

भाजपा के चेहरे पर राफेल दलाली की लाली : संजय सिंह  (18 सितंबर, 2018)

लखनऊ, 18 सितंबर (आईएएनएस)| आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने यहां मंगलवार को कहा कि राफेल हवाई जहाज का मुद्दा एक बड़ा सवाल है। भाजपा के चेहरे पर जो लाली है, वह राफेल की दलाली की वजह से है। उन्होंने कहा कि 450 करोड़ रुपये का जहाज 1670 करोड़ रुपये में सरकार खरीद रही है। सिंह ने यहां वीवीआईपी गेस्ट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत कहा, "नीरव मोदी जैसे लोग बैंकों का रुपया लूटकर भाग रहे हैं। विजय माल्या जैसे भगोड़े के खिलाफ तो राजसभा सांसद पीएल पुनिया ने भी पक्ष सामने रखा है। इस पर सरकार ने चुप्पी साध रखी है। सरकार सभी मामलों में संलिप्त है।"


वीडियो गैलरी

© 2018 आईएएनएस इंडिया प्राईवेट लिमिटेड.
हमें बुकमार्क करना ना भूलें! (CTRL-D)
साइट द्वारा डिज़ाइन किया गया: आईएएनएस