ताज़ा खबर
बिहार : गया में 250 वर्ष पुराने बही-खातों में दर्ज हैं पुरखों के हस्ताक्षर

बिहार : गया में 250 वर्ष पुराने बही-खातों में दर्ज हैं पुरखों के हस्ताक्षर  

15 सितंबर, 2019  

गया, 15 सितंबर (आईएएनएस)| आज इंटरनेट के इस युग में आप अपने दस्तावेज सुरक्षित रखने के लिए भले ही डिजिटल एप का सहार लेते हों, मगर गया में पितरों की आत्मा की मुक्ति के लिए पिंडदान कर्मकांड कराने में निपुण पंडे आज भी अपने 250 से 300 साल पुराने बही-खाते से ही पिंडदान करने वाले पूर्वजों के नाम खोजते हैं।



तिरंगे के रंग में रंगे ताजिया से दिया राष्ट्रप्रेम व भाईचारे का संदेश

तिरंगे के रंग में रंगे ताजिया से दिया राष्ट्रप्रेम व भाईचारे का संदेश  (11 सितंबर, 2019)

शिवपुरी (मध्य प्रदेश), 11 सितंबर (आईएएनएस)| देशभक्ति को किसी मजहब या धर्म से नहीं जोड़ा जा सकता। देशभक्ति तो धर्म से भी बढ़कर है। यह बात मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में सार्थक साबित हुई, जहां मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ताजिया को तिरंगे के रंग में रंग दिया। शिवपुरी जिले के पिछोर में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राष्ट्रीय एकता की थीम पर ताजिया बनाया। इस ताजिया को तिरंगे के रंग में रंगा गया था, जिसके बीच में चक्र और भारत के नक्शे का आकार भी नजर आ रहा था। यह सभी के बीच आकर्षण का केंद्र बना हुआ था। इस ताजिए को 10 लोगों ने दिन-रात मेहनत कर 25 दिनों में तैयार किया था।

बिहार : मिथिलांचल के स्टेशनों पर मैथिली में उद्घोषणा

बिहार : मिथिलांचल के स्टेशनों पर मैथिली में उद्घोषणा  (11 सितंबर, 2019)

पटना, 11 सितंबर (आईएएनएस)| बिहार के मिथिलांचल के सभी रेलवे स्टेशनों में यात्रियों को अब मैथिली भाषा में ना केवल पूछताछ केंद्रों पर आने-जाने वाली ट्रेनों की सूचना मैथिली भाषा में दी जाएगी बल्कि इस स्थानीय भाषा में उद्घोषणा भी की जाएगी। फिलहाल, समस्तीपुर रेल मंडल के चार रेलवे स्टेशनों पर इसकी शुरुआत भी हो चुकी है। समस्तीपुर रेल मंडल के वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक (डीसीएम) बिरेंद्र कुमार ने बुधवार को आईएएनएस को बताया कि दरभंगा, जयनगर, मधुबनी और सकरी स्टेशनों पर हिन्दी के साथ-साथ मैथिली में भी उद्घोषणा की जा रही है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी स्टेशन अधीक्षकों व स्टेशन मास्टरों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं।


वीडियो गैलरी

© 2019 आईएएनएस इंडिया प्राईवेट लिमिटेड.
हमें बुकमार्क करना ना भूलें! (CTRL-D)
साइट द्वारा डिज़ाइन किया गया: आईएएनएस